हम हैं आपके साथ

यह हमारी नवीनतम पोस्ट है:


कृपया हिंदी में लिखने के लिए यहाँ लिखे

आईये! हम अपनी राष्ट्रभाषा हिंदी में टिप्पणी लिखकर भारत माता की शान बढ़ाये.अगर आपको हिंदी में विचार/टिप्पणी/लेख लिखने में परेशानी हो रही हो. तब नीचे दिए बॉक्स में रोमन लिपि में लिखकर स्पेस दें. फिर आपका वो शब्द हिंदी में बदल जाएगा. उदाहरण के तौर पर-tirthnkar mahavir लिखें और स्पेस दें आपका यह शब्द "तीर्थंकर महावीर" में बदल जायेगा. कृपया "सच्चा दोस्त" ब्लॉग पर विचार/टिप्पणी/लेख हिंदी में ही लिखें.

मंगलवार, मार्च 08, 2011

दोस्ती कम, अश्लील बातें ज्यादा

"फ़ोन फ्रेंड्स क्लब-दोस्ती कम, अश्लील बातें ज्यादा"
 आ अपनी पत्नी द्वारा फर्जी मुकद्दमों के कारण मानसिक "डिप्रेशन" की बीमारी के अलावा अनेकों बिमारियों की वजय से कुछ अच्छी रचनाएँ /लेख  नहीं लिख/कह पाता  हूँ. न्याय व्यवस्था के अधिकारियों द्वारा अपना कर्तव्य व फर्ज ईमानदारी से नहीं निभाने के कारण कैसे मेरा जीवन और भविष्य लगभग चौपट हो गया है. इसलिए अपने ब्लॉग पर भी नियमित रूप से पोस्ट नहीं लिख पाता हूँ. मगर अपने "सच्चा दोस्त बनो और सच्चा दोस्त बनाओ" अभियान के तहत दोस्तों की मदद मिलने के बाद अपनी खोजी पत्रकारिता के अनुभव से एक लेख "फ़ोन फ्रेंड्स क्लब-दोस्ती कम, अश्लील बातें ज्यादा" मैंने मासिक पत्रिका "गृहलक्ष्मी" के लिए सन 2001 लिखा था. लेख प्रकाशित होने के 60 दिन बाद ही लेख में जिक्र सामाजिक समस्या का निवारण करते हुए सरकार ने ऐसे फ़ोन लाईन को बंद कर दिया था. जिससे युवा पीढ़ी पर दुष्प्रभाव पड़ रहा था. जिसे पत्रिका ने अपने टाईटल (शीर्षक) पेज पर भी प्रमुख्यता से प्रकाशित किया था. उम्मीद है आपको उपरोक्त लेख जरुर पसंद आयेगा. अगर आपके पास समय हो तो कृपया किल्क करके संलग्न लेख "फ़ोन फ्रेंड्स क्लब-दोस्ती कम, अश्लील बातें ज्यादा" जरुर पढ़ें.
 
                           

7 टिप्‍पणियां:

  1. सार्थक लेखन ...युवाओं को जागरूक करने वाला लेख है....

    उत्तर देंहटाएं
  2. सच्ची अभिव्यक्ति और उस पर आधारित लेख.....वाह...

    उत्तर देंहटाएं
  3. bhai saab pahle to apne blog ki color matching sahi kar le.. ye mera sujhaw hai.
    aur ye post achhi hai, achha topic hai.

    http://dunali.blog.com/

    उत्तर देंहटाएं
  4. jnaab aese vigyaap[n chhaapna apraadh he or aese akhbar ko manytaa nhin milnaa chaahiye . akhtar khan akela kota rajsthan

    उत्तर देंहटाएं
  5. एक सही रास्ते की ओर.......,
    http://yuvaam.blogspot.com/2013_01_01_archive.html?m=0

    उत्तर देंहटाएं

अपने बहूमूल्य सुझाव व शिकायतें अवश्य भेजकर मेरा मार्गदर्शन करें. आप हमारी या हमारे ब्लोगों की आलोचनात्मक टिप्पणी करके हमारा मार्गदर्शन करें और हम आपकी आलोचनात्मक टिप्पणी का दिल की गहराईयों से स्वागत करने के साथ ही प्रकाशित करने का आपसे वादा करते हैं. आपको अपने विचारों की अभिव्यक्ति की पूरी स्वतंत्रता है. लेकिन आप सभी पाठकों और दोस्तों से हमारी विनम्र अनुरोध के साथ ही इच्छा हैं कि-आप अपनी टिप्पणियों में गुप्त अंगों का नाम लेते हुए और अपशब्दों का प्रयोग करते हुए टिप्पणी ना करें. मैं ऐसी टिप्पणियों को प्रकाशित नहीं करूँगा. आप स्वस्थ मानसिकता का परिचय देते हुए तर्क-वितर्क करते हुए हिंदी में टिप्पणी करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...